Get #Pray App today #दशहरा

आप सभी को दशहरा की हार्दिक शुभ कामना | दशहरा को संपूर्ण भारत में बुराई पैर अच्छाई की जीत के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है| दशहरा हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहारों में से एक है । यह त्योहार अशिवन महीने के शुक्ल पक्ष में नवरात्र के दसवें दिन मान्य जाता है।

इस अवसर पर अधिकतर जगहों माता दुर्गा की प्रतिमा स्थापित की जाती है, और घरों, मंदिरों में नौ दिनों तक दुर्गासप्तशती का पाठ चलता रहता है । मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना होती है ।

मुंबई में रामलीला का आयोजन किया जाता है, और आज के दिन रावण का वध होता | रावण के वध के बाद भगवान राम समाज में न्याय की स्थापना की थी और लोगों में सत्य की प्रति विह्वाश को जागृत किया |

देवी दुर्गा ने विजय दशमी, यानी आज के दिन महिषासुर जिसे भैंस असुर के नाम से भी जाना जाता है, का वध किया था।

पौराणिक कथाओं के अनुसार महिसासुर के एकाग्र ध्यान से बाध्य होकर देवताओं ने उसे अजय होने का वरदान दे दिया। महिसासुर को वरदान देने के बाद देवताओं में भय व्याप्त हो गया कि वह अब अपनी शक्ति का दुरपयोग करेगा। प्रत्याशित प्रतिफल स्वरूप सर्व शक्तिमान भैंस असुर महिषासुर ने नरक का द्वार स्वर्ग के द्वार तक खींच दिया और उसके इस विशाल साम्राज्य को देख देवता विस्मय की स्थिति में आ गए।

महिसासुर के इस दुस्साहस से क्रोधित होकर देवताओं ने देवी दुर्गा की रचना की। मान्यता है कि देवी दुर्गा के निर्माण में सारे देवताओं का एक समान बल लगाया गया था। महिषासुर का नाश करने के लिए सभी देवताओं ने अपने अपने अस्त्र देवी दुर्गा को दिए थे और देवताओं के सम्मिलित प्रयास से देवी दुर्गा और बलवान हो गईं और महिषासुर का वध करने में सक्षम रही।

Get #Pray App today

Give some Likes to Authors

whatsq

Support whatsq.com, help community and write on social network.