आज़ादी के बाद का भारत…

भारत को आज़ाद हुए आज 68 साल से ऊपर हो गया पर क्या भारत अपने आज़ादी से आज तक कुछ भी बदल पाया ,या कहें जितना भी कुछ था उसे सहेज़ की रख पाया या जो था उसे भी धूमिल कर दिया..अगर एक के बाद एक मुद्दे पर नज़र डाले Read more…

Give some Likes to Authors

गणतंत्र दिवस विशेष…

गणतंत्र दिवस विशेष… भारत का एक राष्ट्रीय पर्व जो प्रति वर्ष 26 जनवरी को मनाया जता है इसी दिन सन् 1950 को भारत का संविधान लागू हुआ था। एक स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश के संक्रमण को पूरा करने के लिए 26 जनवरी 1949 को भारतीय संविधान सभा द्वारा इसे Read more…

Give some Likes to Authors

Politics In Education System

सौभाग्य कहें या दुर्भाग्य की हम भारत में जन्मे जहाँ अंबेडकर जैसे लोग जन्मे जो दलितों के लिए अलग राज्य की मांग करते थे जिसका मूल्य भारत था..जिन्हें भारत के संविधान का निर्माता कहा गया अब ये तो बहुत ही विडम्बना है की भारत की छाती को दो फांक में Read more…

Give some Likes to Authors

Major Events/Festival for the year 2016

Find the list of All the Major events/Festival for the year 2016: Click here to get a your copy. Festival Day Date Month Kalpataru Divas Friday 01-01-2016 Jan-16 Balaji Jayanti Saturday 02-01-2016 Jan-16 Vivekananda Jayanti Tuesday 12-01-2016 Jan-16 Lohri Wednesday 13-01-2016 Jan-16 Makar Sankranti / Paush Sankranti / Magh Bihu Read more…

Give some Likes to Authors

महामृत्युंजय मंत्र (Mahamrityunjay Mantra)

 ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥ महामृत्युंजय मंत्र का अर्थ: हम तीन नेत्र वाले भगवान शंकर की पूजा करते हैं जो प्रत्येक श्वास में जीवन शक्ति का संचार करते हैं, जो सम्पूर्ण जगत का पालन-पोषण अपनी शक्ति से कर रहे हैं, उनसे हमारी प्रार्थना है कि जिस Read more…

Give some Likes to Authors

गायत्री मंत्र : हे प्रभु, क्रिपा करके हमारी बुद्धि को उजाला प्रदान कीजिये, ज्ञान प्रदान कीजिये.

|| ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्यः धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात् || वेद ग्रंथ की माता, गायत्री मंत्र को हिन्दू धर्म में सबसे उत्तम मंत्र माना जाता है. यह मंत्र हमें ज्ञान प्रदान करता है. इस मंत्र का मतलब है – और हमें धर्म का सही रास्ता दिखाईये. यह Read more…

Give some Likes to Authors